अन्य

कारोबारी ने पत्नी और ससुराल वालों को इंटरनेट पर सर्च करके खिलाया ये जहर

दिल्ली के एक कारोबारी ने अपनी पत्नी और ससुराल वालों को खत्म करने की ऐसी साजिश रची जिसे जानकर पुलिस भी हैरान है। वरूण शर्मा नाम के बिजनेसमैन ने एक ऐसे जहर का इस्तेमाल किया जो हर किसी को आसानी से मिलता नहीं है। 
इस जहर का नाम है थैलियम। गूगल पर पहले वरूण अरोड़ा ने सर्च किया और उसके बाद अपनी पत्नी समेत पूरे ससुराल वालों को मछली में थैलियम जहर मिलाकर दे दिया। इस जहर से वरूण की सास अनिता शर्मा और उसकी साली प्रियंका शर्मा की मौत हो गई, जबकि उसकी पत्नी दिव्या अरोड़ा अब भी अस्पताल में भर्ती है और कोमा में है। 
वरूण के सुसर के मुताबिक उन्हें जहर देने का पता तो तब चला जब 23 मार्च को खून की जांच में थैलियम जहर पाया गया। जब परिवार को जांच के दौरान थैलियम जहर के बारे में पता चला तब इस मामले की शिकायत पुलिस से की गई। पुलिस ने वरुण को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की तो वरुण ने इस पूरी साजिश का खुलासा किया। डीसीपी वेस्ट उर्विजा गोयल ने बताया कि पूछताछ में वरुण ने खुलासा किया कि गूगल से उसको इस जहर के बारे में जानकारी मिली थी। पुलिस के मुताबिक वरूण ने गूगल पर सर्च किया कि How to make somebody very sick.

वरूण पत्नी और ससुराल वालों से था बेहद नाराज
वरूण के ससुर देवेंद्र शर्मा ने बताया कि उन्होंने अपनी बड़ी बेटी दिव्या की शादी 12 साल पहले वरूण अरोड़ा के साथ की थी। इनके मुताबिक ये अरेंज मैरिज की गई थी। लेकिन शादी के 7 साल तक दोनों को कोई बच्चा नहीं हुआ। इसके बाद डॉक्टर की सलाह पर आईवीएफ के जरिये साढ़े चार साल पहले दोनों को जुडवा बच्चे एक बेटा और एक बेटी हुए। देवेंद्र शर्मा ने बताया कि करीब एक साल पहले वरुण के पिता की मौत हो गई थी, इसी दौरान दिव्या भी प्रेग्नेंट हो गई लेकिन डॉक्टर ने दिव्या को इस बच्चे को जन्म देने से इंकार कर दिया। 
डॉक्टर का कहना था कि अगर यह बच्चा पैदा हुआ तो मां की जान को खतरा हो सकता है इसलिए उसने गर्भपात करा लिया। देवेंद्र शर्मा की माने तो वरुण गर्भपात के खिलाफ था। उसका कहना था कि इस बच्चे के रूप में उसके पिता वापस आ रहे हैं। इस बात से वो काफी नाराज रहने लगा। परिवार के मुताबिक यही वजह थी कि उसने पूरे परिवार को जहर देकर मारने की साजिश रच डाली। 


मछली में जहर मिलाकर खिलाया सभी को
वरूण के सुसर देवेंद्र शर्मा के मुताबिक इसी वजह से वह पूरे परिवार से बदला लेना चाहता था और उसके पूरे परिवार को खत्म करने के लिए उसने सबको थैलियम नाम का जहर खिला दिया। वो 31 जनवरी का दिन था, वरुण दोपहर में करीब 3:00 बजे अपनी ससुराल पहुंचा। वहां पहुंच कर उसने बताया कि वह बहुत अच्छा कुक है और आज सबके लिए मछली बनाकर लाया है। उसने वह मछली सबको खिला दी लेकिन खुद और बच्चों को नहीं दी। उसने यह बहाना बनाया कि उसके दांत में दर्द है। 

22 हज़ार में खरीदा जहर
पुलिस ने जब वरूण को गिरफ्तार किया तो उसने थैलियम की बात कुबूल की। इतना ही नहीं उसके घर से थैलियम भी बरामद किया गया। पकड़े जाने के डर से गिरफ्तारी से पहले वरुण ने खुद भी थोड़ा सा जहर ले लिया था। पुलिस ने जब वरूण अरोड़ा से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने ये जहर 22 हज़ार रुपये में खरीदा था। पुलिस के मुताबिक ये जहर उसने दिल्ली के बाहर कही से लिया है। पुलिस वरुण के बयानों को तो वेरीफाई कर ही रही है, साथ ही साथ यह पता करने की कोशिश कर रही है कि आखिरकार उसे यह जहर किसने दिया था। 

Leave A Comment