कोरोना

दिल्ली-मुंबई में रोज टूट रहे रिकॉर्ड, पाबंदियों के बावजूद कोरोना बेकाबू

होली के त्योहार से पहले देश में कोरोना वायरस की रफ्तार बेकाबू होती दिख रही है। देश की राजधानी दिल्ली हो या महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई, हर जगह कोरोना वायरस के ताजा आंकड़े रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। कोरोना का संकट फिर से पिछले साल के डरावने वक्त को दोहराता दिख रहा है। बढ़ती रफ्तार ऐसी है कि गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी कुल केस का आंकड़ा 50 हजार को पार कर सकता है। 

महाराष्ट्र में नहीं थम रही कोरोना की लहर 
देश में कोरोना की इस लहर का सबसे बड़ा शिकार महाराष्ट्र बना है। यहां पर हर नए दिन के साथ कोरोना के मामले नया रिकॉर्ड बना रहे हैं। बुधवार को करीब 31 हजार मामले रिकॉर्ड हुए थे, तो बीते दिन ये आंकड़ा 35 हजार को भी पार कर गया। महाराष्ट्र में गुरुवार को 35952 केस दर्ज हुए, जबकि राज्य में 111 लोगों की मौत हुई। 

महाराष्ट्र में भी मुंबई सबसे घातक मोड़ से गुजर रही है, जहां एक दिन में 5504 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 14 लोगों की मौत हुई है। ये लगातार दूसरा दिन है जब मुंबई में 5000 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं।  

कोरोना की बढ़ती रफ्तार के कारण महाराष्ट्र सरकार सकते में है, यही वजह है कि आधा दर्जन से अधिक शहरों में लॉकडाउन लगा दिया गया है. बीड, नांदेड़ जैसे जिलों में तो एक हफ्ते का संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है. 

कहीं दिल्ली फिर ना बन जाए एपिसेंटर?
महाराष्ट्र की तरह ही दिल्ली की चिंता भी बढ़ रही है, क्योंकि राजधानी में लगातार केसों के नंबर बढ़ रहे हैं। गुरुवार को दिल्ली में 1515 केस दर्ज किए गए हैं, जबकि 5 लोगों की मौत हुई है। साल 2021 में दिल्ली में एक दिन में ये अबतक के सबसे अधिक केस हैं। चिंता की बात ये है कि दिल्ली में लगातार केस 1000 से ऊपर जा रहे हैं और हर दिन के साथ आंकड़ा बढ़ रहा है। 

ऐसे में दिल्ली सरकार ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। मेट्रो स्टेशन, बस स्टेशन, सिनेमाघर, मॉल में कोरोना गाइडलाइन्स का पालन सख्ती से किया जा रहा है और लोगों पर कोई ढिलाई नहीं बरती जा रही है।  

कोरोना की इसी रफ्तार के कारण अब दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर भी सख्ती बढ़ गई है। बीते दिन यहां पर रैंडम कोरोना टेस्टिंग शुरू कर दी गई। यानी बॉर्डर से गुजरने वाले किसी भी व्यक्ति को कोरोना टेस्ट करवाना पड़ सकता है। नोएडा दिल्ली से सटा है, ऐसे में पहले की तरह फिर सख्ती बढ़ रही है। यूपी में भी बीते दिन 800 से अधिक कोरोना के केस मिले थे। 

आपको बता दें कि बीते दिन भी देश में 53 हजार से अधिक केस दर्ज हुए थे, जबकि 250 से अधिक मौतें हुई थीं। यही कारण है कि एक बार कोरोना वायरस की बढ़ती रफ्तार हर किसी को डरा रही है। वहीं होली का त्योहार भी आ गया है, ऐसे में देश के कई राज्यों ने अपने यहां सार्वजनिक कार्यक्रम पर बैन लगा दिया है। 

Leave A Comment