अन्य

पाकिस्तान ने भारत से कपास और सूती धागे के आयात की दी इजाजत

भारत और पाकिस्तान के बीच पिछले कई सालों से रिश्तों में जमीं बर्फ अब पिघलने लगी है। पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तरफ से पाकिस्तान डे पर पाकिस्तानी पीएम इमरान खान को खत और उसके जवाब में इमरान की तरफ से पीएम मोदी को जवाबी पत्र के बाद रिश्तों में सुधार दिखने शुरू हो गए हैं। समाचार एजेंसी रायटर्स ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पाकिस्तान के आर्थिक समन्वय परिषद ने भारत ने कपास और सूती धागे के आयात की इजाजत दे दी है। 

पाकिस्तान कैबिनेट के तरफ से कपास के आयात को मंजूरी दी गई है। पाकिस्तान कैबिनेट ने प्राइवेट सेक्टर को भी इजाजत दे दी है कि वे भारत से चीनी का आयात कर सकता है। इसे लेकर पाकिस्तान की ओर से इस बारे में भारत से अनुरोध किया जा सकता है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पाकिस्तान डे पर लिखे पत्र के जवाब में इमरान खान ने पत्र लिखकर पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा था पाकिस्तान की जनता भी भारत समेत सभी पड़ोसी देशों के साथ शांति और सहयोगपूर्ण रिश्ता चाहती है। 
इमरान खान ने लिखा- हमें यह विश्वास है कि दक्षिण एशिया में लंबे समय तक शांति और स्थायित्व भारत-पाकिस्तान के बीच सभी मुद्दों को सुलझाए जाने खासकर जम्मू कश्मीर विवाद पर निर्भर करता है। साकारात्मक और नतीजापूर्ण बातचीत के लिए सौहार्द वातावरण का बनाया जाना जरूरी है। उन्होंने इसमें आगे कहा कि वे कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई को लेकर भारतीय जनता को शुभकामनाएं देना चाहते हैं। 

इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को पाकिस्तान के नेशनल डे के मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को पत्र भेजकर बधाई दी थी। प्रधानमंत्री मोदी ने इमरान खान को भेजे बधाई संदेश में कहा कि भारत पाकिस्तान की आवाम के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध चाहता है और इसके लिए आतंक शत्रुता मुक्त वातावरण अत्यंत ज़रूरी है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपन पत्र में कोरोना वायरस से लड़ाई का भी ज़िक्र करते हुए इमरान खान और पाकिस्तान की आवाम को शुभकामनाएं दी थी। 

Leave A Comment