अन्य

IAS Success Story: सटीक रणनीति से श्वेता ने तीन बार यूपीएससी पास की और बन गईं आईएएस अफसर

कई लोगों को यूपीएससी में सफलता प्राप्त करने में सालों लग जाते हैं, तो कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो पहले ही प्रयास में सफलता प्राप्त कर लेते हैं। आज हम आपको बताएंगे एक ऐसी शख्स की कहानी जिन्होंने एक नहीं, दो नहीं, बल्कि तीन बार यूपीएससी क्लियर किया है। वो शख्स हैं श्वेता चौहान जिन्होंने यूपीएससी की परीक्षा को तीन बार पास किया। पहले और दूसरे प्रयास में उन्हें मन मुताबिक रैंक नहीं मिली और उन्होंने तीसरा प्रयास किया। चौथे प्रयास में उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 8 प्राप्त की और आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा कर लिया। आइए जानते हैं इनकी कहानी.....

दिल्ली यूनिवर्सिटी से की ग्रेजुएशन
श्वेता ने इंटरमीडिएट के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी से फिजिक्स ऑनर्स में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की। इसके बाद यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी। उनकी तैयारी इतनी जबरदस्त थी कि पहले ही प्रयास में 2013 में उन्होंने सफलता प्राप्त कर ली। उन्होंने इस प्रयास में ऑल इंडिया रैंक 573 प्राप्त की, जिससे वे संतुष्ट नहीं हुईं। इसके बाद उन्होंने फिर तैयारी के लिए समय लिया और दूसरा प्रयास 2015 में किया, जिसमें उनकी रैंक 474 आई। उन्हें यह रैंक भी अच्छी नहीं लगी और उन्होंने 2016 में तीसरा प्रयास किया और टॉपर बन गईं। 

प्री और मेंस की तैयारी करें साथ 
श्वेता का मानना है कि यूपीएससी की प्री और मेंस परीक्षा की तैयारी आपको एक साथ करनी चाहिए। कुछ लोग दोनों की अलग-अलग तैयारी करते हैं जो अच्छी रणनीति नहीं है। इसके अलावा आप कम से कम किताबों के साथ तैयारी करें और ज्यादा से ज्यादा रिवीजन करें। जब आप रिवीजन के साथ आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करेंगे तो आपकी परफॉर्मेंस बेहतर होगी और सफलता की संभावना बढ़ जाएगी। 

Leave A Comment