कोरोना

लोग महामारी से डरने की बजाय बना रहे मजाक, सोशल डिस्टेंस को नहीं अपना रहे

सीकर में लगातार कोरोना सं​क्रमित के मामले बढ़ रहे है, इसके बाद भी लोग गाइडलाइन की पालना से परहेज कर रहे है। यहीं कारण है कि तमाम पाबंदियों और धारा 144 लागू होने के बाद भी लोग सोशल डिस्टेंस नहीं अपना रहे है। हालांकि पुलिस के डर से मॉस्क जरूर लगाने लगे है।

बता दे कि खाटू मेले के बाद से कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में तेजी आर्ई है जो बढ़ रही है। कल ही कस्बे में 15 नए कोरोना पॉजीटिव आए हैं, वहीं आज आने वाली रिपोर्ट में आंकड़ा बढ़ने के आसार है। पॉजीटिव आने के बाद इलाके में कंटेनमेंट जोन भी बनाया जा रहा है।

जिले में 14 जनवरी को कोरोना पॉजिटिव की मौत हुई थी, इसके बाद अब मोहल्ला रोशनगंज के 50 साल के संक्रमित बुजुर्ग की मौत हो गई। अब तक कोरोना वायरस 102 जनों की जिंदगी ले चुका है।

बुजुर्ग को तबीयत बिगड़ने पर 30 मार्च को एसके हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। उसे किडनी की बीमारी थी। डायलिसिस होना था। सैंपल लेकर जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। इसके बाद हालत गंभीर हुई तो एक अप्रैल को जयपुर रैफर कर दिया।

अब पॉजिटिव मरीजों की संख्या 9673 हो गई है। इनमें से 9399 स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि 172 व्यक्ति उपचाराधीन हैं। इधर, नगर परिषद आरओ महेश योगी ने बताया कि सीकर शहर में मास्क नहीं लगाने पर 20 लोगों के चालान भी काटे गए।

Leave A Comment