फोटो

सीकर में सोमवार को मनाया बास्योड़ा, माता शीतला की पूजा करने उमड़ी महिलाएं

कस्बे के शीतला चौक में सुबह से ही उत्सव जैैसा माहौल है। सीकर में महिलाओं ने आज बास्योड़ा पूजा।
 महिलाओं ने शीतला माता के ठंडे पकवानों का भोग लगाया और घर में सुख शांति की कामना की। इससे पहले महिलाओं ने रविवार को रांधापूआ बनाया। इसमें राबड़ी, पुआ, पूड़ी चावल बनाया जाता है।
सुबह से ही महिलाएं सज-धजकर घरों से ठण्डे पकवान से सजी थाली लेकर गीत गाते हुए शीतला माता मन्दिर पहुंची। महिलाओं ने शीतला माता की पूजा कर ठण्डे पकवानों का भोग लगाया। भोग लगाने के बाद महिलाओं ने शीतला माता की कहानी सुनी और मंगल गीत गाए।
महिलाओं ने मन्दिर के पास लांगरा को भी भोग लगाया, महिलाओं का कहना था कि शीतला अष्टमी के दिन माता को ठंडे पकवानों का प्रसाद लगाया जाता है। वैसे इसका एक महत्व और है। आज से ठंडा खाना नहीं छोड़ा जाता है, क्योंकि कुछ समय बाद खराब होने लगता है। वहीं खाने में छाछ, दही का महत्व बढ़ जाता है।
घर में ठंडे भोजन का ही आज के दिन प्रसाद ग्रहण किया जाता है। लांगुरिया का पूजन कर छोटे बच्चों को जिमाते है।

Leave A Comment