धर्म

Ram Navami 2021: कब है राम नवमी? जानें शुभ मुहूर्त और पूजा की सही विधि

राम नवमी का पर्व भगवान राम के जन्म दिन के रूप में मनाया जाता है। पंचांग के अनुसार चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी की तिथि 21 अप्रैल बुधवार को पड़ रही है। हिंदू धर्म में राम नवमी के पर्व का विशेष महत्व है। इस दिन भगवान राम की विधि पूर्वक पूजा करने से जीवन में सुख, शांति और समृद्धि आती है।  

राम नवमी का शुभ मुहूर्त 
नवमी तिथि आरंभ: 21 अप्रैल, रात्रि 00:43 बजे से
नवमी तिथि समापन: 22 अप्रैल, रात्रि 00:35 बजे तक
पूजा का मुहूर्त: प्रात: 11 बजकर 02 मिनट से दोपहर 01 बजकर 38 मिनट तक
पूजा की कुल अवधि: 02 घंटे 36 मिनट
रामनवमी मध्याह्न का समय: दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर

राम नवमी पर करें ये उपाय
राम नवमी का पर्व बहुत ही पवित्र और पावन माना गया है। इस दिन भगवान राम की पूजा करने से जीवन में आने वाली परेशानियों को दूर किया जा सकता है। इस बार राम नवमी का पर्व बुधवार के दिन पड़ रहा है। वहीं नवरात्रि के पर्व का अंतिम दिन भी है। जिस कारण राम नवमी का महत्व और भी बढ़ जाता है।  22 अप्रैल को नवरात्रि के व्रत का पारण किया जाएगा। राम नवमी पर भगवान राम की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए इन उपायों को अपनाना चाहिए। 

माता-पिता का आशीर्वाद प्राप्त करें
राम नवमी पर माता-पिता का आशीर्वाद प्राप्त करें। माता-पिता की आज्ञा का पालन करने और उनकी सेवा करने से भगवान राम प्रसन्न होते हैं और अपना आशीर्वाद प्रदान करते हैं। 

राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करें
जीवन में यदि शिक्षा, व्यापार, करियर आदि से जुड़ी कोई भी परेशानी है तो राम नवमी के दिन राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करने से उत्तम फल की प्राप्ति होती है। राम रक्षा स्त्रोत का पाठ करने से हनुमान जी की भी कृपा प्राप्त होती है। 

Leave A Comment