कोरोना

सीकर में आज 380 पॉजिटिव, 3 की इलाज के दौरान मौत, 20 ठीक होकर लौटे घर

कोरोना संक्रमण का आंकड़ा बढ़ रहा है, लेकिन कोविड नियमों का पालन करते हुए जिले के 20 लोगों ने इस बीमारी पर जीत हासिल की है। आज 380 नए पॉजिटिव आए है। वहीं तीन की मौत भी हुई है। इससे पहले कल 288 संक्रमित आए थे। अब तक स्वास्थ्य विभाग ने 38 हजार 942 सैम्पल लिए हैं जिसमें से 2309 संक्रमित आए है। यानि सैम्पल में पॉजिटिव दर 1.6 प्रतिशत है।

एक मार्च से अब तक 38 हजार 942 सैम्पल लिए गए। इनमें से 2 हजार 309 कोरोना संक्रमित आए हैं। वहीं 36 हजार 633 सैम्पल की रिपोर्ट नगेटिव आई है और 4 हजार 73 सैम्पल प्रक्रियाधीन है। बुधवार को 380 नए कोरोना पॉजीटिव सामने आए हैं। वहीं पूर्व संक्रमित 20 स्वस्थ हुए हैं। 1997 एक्टिव केस हैं। अब तक 14 जनों की मृत्यु हो चुकी है। फतेहपुर के गांव कांगणसर की 80 वर्षीय महिला की सीकर के वात्सल्य हॉस्पिटल में मृत्यु हो गई है। वहीं नीमकाथाना के भगोठ और कुरबड़ा गांव के दोनों मरीज सांवली कोविड केयर सेंटर में भर्ती थे।

संक्रमण क्लॉज संपर्क में आने से 94, लक्षणात्मक 170, रैण्डम सैम्पलिंग में 96, यात्रा करने से पहले करवाई गई जांच में 8 और 9 माइग्रेट मिले है। वहीं 3 हैल्थ वर्कर्स भी संक्रमित पाए गए हैं। सीएमएचओ डॉ अजय चौधरी ने बताया कि बुधवार को सीकर शहर में सर्वाधिक 131, फतेहपुर क्षेत्र में 3, खण्डेला ब्लॉक में 37, कूदन क्षेत्र में 36, लक्ष्मणगढ़ में 46, नीमकाथाना ब्लॉक में 50, पिपराली क्षेत्र में 24, श्रीमाधोपुर ब्लॉक में 28 और दांता क्षेत्र में 25 नए कोरोना संक्रमित आए हैं।

लैब टैक्निशियन ने किया प्रदर्शन
मेडिकल कॉलेज में संविदा पर लगे लैब टैक्निशियन ने आज विरोध प्रदर्शन किया। उनकी मांग थी कि पिछले छह माह से उनका वेतन नहीं मिल रहा है। एक बार तो सभी नारेबाजी करते हुए विवि गेट केे बाहर आ गए। इससे सैम्पल लेने का काम प्रभावित हुआ। बाद में प्रिंसिपल मौके पर पहुंचे जल्द ही वेतन देने का आश्वासन दिया। इसके बाद लैब टैक्निशियन काम पर लौटे।

ग्राहक नहीं बुलाएंगे, सामान पैक कर देंगे
वहीं शादी सीजन शुरू होने के बाद सीकर व्यापार महासंघ के प्रतिनिधि ने कलेक्टर से मिलकर ज्ञापन सौंपा। उनकी मांग थी कि कई दुकानदारों ने शादियों में सामान बुक किया हुआ है। ऐसे में उनके सामान नहीं देने पर लोगों की शादी में नुकसान होगा। कुछ देर के लिए ही सही दुकान खोलने दी जाए। इस पर कलेक्टर ने ग्राहकों के नहीं आने, मॉस्क और दूसरे गाइडलाइन की पालना करते हुए ली गई बुकिंग के सामान पैक कर उन्हें देने की हां कर दी।

Leave A Comment