अन्य

कनाडा ने भारत और पाकिस्तान से आने वाली पैसेंजर फ्लाइट्स पर लगाया 30 दिनों का बैन

कनाडा ने गुरुवार को भारत और पाकिस्तान से आने वाली सभी पैसेंजर फ्लाइट्स को 30 दिनों के लिए  सस्पेंड कर दिया है। परिवहन मंत्री उमर अल्गबरा ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि इन देशों से आने वाले यात्रियों में कोविड -19 के ज्यादा मामले पाए जा रहे हैं। 

उमर ने एक कॉन्फ्रेंस में कहा कि  "भारत और पाकिस्तान से कनाडा पहुंचने वाले हवाई यात्रियों में कोविड -19 के मामलों की ज्यादा संख्या को देखते हुए मैं 30 दिनों के लिए भारत और पाकिस्तान से कनाडा पहुंचने वाली सभी कमर्शियल और पैसेंजर फ्लाइट्स को सस्पेंड कर रहा हूं।"  आपको बता दें, गुरुवार रात 11:30 बजे से यह बैन लागू होगा। 

कार्गो फ्लाइट्स पर नहीं लगेगा बैन
उमर ने कहा कि यह बैन कार्गो फ्लाइट्स पर लागू नहीं होगा ताकि टीके, पीपीई किट और अन्य आवश्यक सामानों की निरंतर शिपमेंट सुनिश्चित की जा सके। 

कनाडा में केवल 1.8 प्रतिशत यात्री कोरोना वायरस पॉजिटिव मिले
वहीं, कनाडाई स्वास्थ्य मंत्री पैटी हज्दू ने कहा कि कुल मिलाकर कनाडा में केवल 1.8 प्रतिशत यात्री कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए। उन्होंने कहा कि कनाडा की हालिया फ्लाइट्स में से भीरतीयों का 20 प्रतिशत शेयर है लेकिन इनमें से 50 फीसदी से ज्यादा लोग संक्रमित मिले हैं। इसी तरह से पाकिस्तान से आने वाले फ्लाइट्स में भी संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आए हैं। कनाडा ने पिछले साल दिसंबर में ब्रिटेन में कोविड के नए वेरिएंट के आने के बाद कुछ समय के लिए ब्रिटेन की फ्लाइट्स सस्पेंड कर दी थी। 

कई दूसरे देश भी लगा चुके प्रतिबंध
कनाडा की तरह कई दूसरे देश भी पहले ऐसी घोषणा कर चुके हैं। संयुक्त अरब अमीरात ने गुरुवार को भारत से सभी फ्लाइट्स को सस्पेंड करने की घोषणा की। ब्रिटेन ने भी इस सप्ताह भारत से यात्रियों की एंट्री बैन की है। वहीं फ्रांस ने 10- दिन का क्वारंटीन अनिवार्य किया है। कनाडा में आने वाले सभी यात्रियों के लिए पहले से ही 14- दिन का क्वारंटीन अनिवार्य है। 

कनाडा संक्रमण की तीसरी लहर का सामना कर रहा है। कनाडा में गुरुवार को 9,000 नए कोविड -19 मामले सामने आए, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 11,51,276 हो गई। 

Leave A Comment